No icon

President of India on Punjab tour

पंजाब दौरे पर राष्ट्रपति कोविंद ,कहा-मेरा सौभाग्य सबसे पहले यहां अाने का मौका मिला

देश के 14वें राष्ट्रपति महामहिम रामनाथ कोविंद अाज अादमपुर में एक समारोह में भाग लेने के लिए पहुंचे। इस मौके पर राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा कि पंजाब गुरुओं की धरती है और आर्मी में पंजाब के लोगों का बहुत योगदान रहा है। ये उनका सौभाग्य है कि राष्ट्रपति बनने के बाद और भारतीय सेनाओं के सुप्रीम कमांडर होने के नाते सबसे पहले उन्हें पंजाब में अदमपुर एयर फोर्स स्टोशन अाने का मौका मिला।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आदमपुर वायुसेना स्टेशन पर पारंपरिक परेड के दौरान वायुसेना के 223 स्क्वाड्रन और 117 हेलीकॉप्टर इकाई को प्रतिष्ठित राष्ट्रपति स्टैंडर्ड प्रदान किया। सशस्त्र बलों के सर्वोच्च कमांडर राष्ट्रपति ने 223 स्क्वाड्रन के कमांडिंग अधिकारी ग्रुप कैप्टन प्रभात मलिक और 117 हेलीकॉप्टर इकाई के कमांडिंग अधिकारी विंग कमांडर एन.बत्रा को यह सम्मान भेंट किया। वायुसेना की ये दोनों इकाइयां 18 साल पूरा करने के पश्चात राष्ट्रपति स्टैंडर्ड प्राप्त करने की हकदार बनी हैं। उनका चयन शांति एवं शत्रुता के समय उनके प्रदर्शन और उपलब्धियों के आधार पर किया गया है।  

इसके बाद काला सूट पहने राष्ट्रपति कोविंद ने कड़ी सुरक्षा के बीच अपने परिवार के सदस्यों के साथ स्वर्ण मंदिर के पवित्र स्थान पर मत्था टेका। पंजाब के मंत्री राणा गुरजीत सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू ने श्री गुरुरामदास अंतराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर कोविंद की अगवानी की। स्वर्ण मंदिर पहुंचने के बाद शिरोमणि अकाली दल (शिअद) अध्यक्ष और पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के साथ ही एसजीपीसी अध्यक्ष कृपाल सिंह बादुंगर ने उनका स्वागत किया।

Comment